मुख्य समाचार

अब प्लेटफार्म पर पहुंचते ही पूरी ट्रेन होगी स्कैन, जानिएं क्यों


DEEP KRISHAN SHUKLA 06/03/2019 14:47:23 68 Views


Lucknow.अब ट्रेन के प्लेटफार्म पर पहुंचते ही उसके कोचों की ​स्थिति, साफ सफाई व खराबी जैसी सभी जानकारियां रेलवे के अधिकारियों के पास पलक झपकते पहुंच जाएगी। इसके लिए रेलवे ने खास योजना बनाई है जिसके तहत स्टेशनों को डेटा लागर से लैस किया जाएगा। प्लेटफार्म पर ट्रेन पहुंचते ही पूरी ट्रेन स्कैन होगी और उसकी जानकारी तत्काल रेलवे अधिकारियों तक पहुंच जाएगी। यह व्यवस्था लागू होने के बाद यात्रियों को ट्रेन की सटीक जानकारी मिल सकेगी। इस नए सिस्टम से शुरूआत में देश के प्रमुख 41 स्टेशनों पर यह ​सिस्टम लगाने की योजना है। 

Plateform par pahunchte hi poori train hogi scan, janiye kyon
मालूम हो कि भारत के सबसे बड़े विभाग रेलवे में अभी भी तमाम काम मानवीय प्रक्रिया पर ही होते हैं। 
कोच की खराबी तलाशने की जिम्मेदारी यार्ड और प्लेटफार्म पर तैनात कर्मचारियों पर होती है। कौन सा कोच कहां लगा है इसके लिए अलग कर्मचारी होते हैं। सफाई, एसी खराब की जांच आदि के लिए भी अलग अलग कर्मचारी होते हैं। 

Plateform par pahunchte hi poori train hogi scan, janiye kyon
इस मैनुअल सिस्टम के चलते होने वाले असुविधा के प्रति रेलवे प्रशासन खासा गंभीर है। जिसके चलते मैनुअल सिस्टम को खत्म करने के लिए डेटा लागर सिस्टम तैयार कर लिया है। 

Plateform par pahunchte hi poori train hogi scan, janiye kyon
यह सिस्टम में ट्रेन के प्लेटफार्म पर कोच अंदर व बाहर से स्कैन हो जाएगा। कौन सा कोच कहां लगा है, कहां क्या खराबी है और सफाई की स्थिति क्या है इस सबकी जानकारी कुछ ही पलों में ​अधिकारियों तक पहुंच जाएगी। 
आप्टिकल फाइबर के सहारे डेटा लागर्स को कंट्रोल रूम से जोड़ा जाएगा। कंट्रोल रूम से यह जानकारी अधिकारियों के साथ साथ यात्रियों को भी मिल सकेगी। 

Plateform par pahunchte hi poori train hogi scan, janiye kyon
रेलवे सूत्रों की माने तो पहले चरण में देश के प्रमुख 41 स्टेशनों पर डेटा लागर्स सिस्टम लगाने की स्वीकृति मिली है। कुछ स्टेशनों पर यह सिस्टम लगाने का काम भी शुरू हो गया है। 
  कर्मचारियों के भविष्य पर लग जाएगा प्रश्न चिन्ह
रेलवे में यह व्यवस्था लागू होने से सूचनाएं भले ही जल्दी मिलने लगें लेकिन इससे उन कर्मचारियों के भविष्य पर संकट के बादल जरूर मंडराने लगे है जो अभी तक इन कामों को अंजाम देते थे। कर्मचारियों का काम डेटा लागर से होगा तो इससे बड़ी तादाद में रेलवे के कर्मचारियों के पास कोई काम ही नहीं बचेगा। विभाग के पास यह बड़ी चुनौती खड़ी होगी कि आखिर इतनी बड़ी संख्या में इन कर्मचारियों से वह कौन सा दूसरा काम लेगा। 

Plateform par pahunchte hi poori train hogi scan, janiye kyon
  रेलवे को फायदा ही फायदा 
रेलवे का यह कदम उसके लिए आय बढ़ाने वाला शाबित हो सकता है। ट्रेनों की सटीक जानकारी मिलने से खामियों को समय रहते दूर किया जा सकेगा। जिससे ट्रेनों का संचालन समय से हो सकेगा। इसके अलावा इन कामों को अंजाम देने वाले कर्मचारियों की जरूरत रेलवे को नहीं रह जाएगी। जिससे उसे इन कर्मचारियों के प्रतिमाह के वेतन पर होने वाले खर्च की भी बचत होगी।  

यह भी पढ़े...अयोध्या विवाद: मध्यस्थता पर सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा अहम फैसला

 

 

 

 

 

Web Title: Plateform par pahunchte hi poori train hogi scan, janiye kyon ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया