मुख्य समाचार
मोदी की पत्नी का रोल करेंगी ये एक्ट्रेस कहा, शानदार फिल्म का हिस्सा बनकर खुश हूं मोदी सरकार के इन फैसलों ने किया पाकिस्तान की नाक में दम पुलवामा हमले से दुखी बाबा स्वरूपानंद, वापस लिया रामजन्मभूमि शिलान्यास का फैसला पूर्व सैनिक के बेटे ने मानव बम बनने की जतायी इच्छा, पीएम मोदी को भेजा ई-मेल पुलवामा में शहीद हुए जवानों के परिजनों की मदद के लिए आगे आए ये संस्थान यहां निकली असिस्टेंट के पदों पर भर्ती, जल्द करें आवेदन नकल की सख्ती छात्रों के ठेगे पर, धरे गए 72 परीक्षार्थी मायावती ने भाजपा को दिया बड़ा झटका, दिग्गज नेताओं को बसपा में किया शामिल कैंडिल मार्च निकालकर लोगों ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि गठबंधन में शामिल होगी कांग्रेस, इतनी सीटें देने को राजी अखिलेश! प्रियंका चोपड़ा के प्रेग्नेंट होने की तस्वीर वायरल, जानें सच है या झूठ पाकिस्तान पर भड़का ईरान, कहा- सैनिकों के खून की चुकानी पड़ेगी भारी कीमत यूपी की कानून व्यवस्था पर एक बार फिर कांग्रेस ने उठाए सवाल भारत से इमरान को एक और बड़ा झटका RRB Railway Group D Result 2019: आज जारी हो सकते हैं ग्रुप डी के रिजल्ट्स, ऐसे करें डाउनलोड गावस्कर की चयनकर्ताओं पर चुटकी, कार्तिक को क्यों निकाला बाहर ? सिंधु को हराकर दूसरी बार चैंपियन बनी साइना आतंकी हमले में शहीद जवानों को कैंडल मार्च निकाल कर दी श्रद्धांजलि इस फिल्म में दिखेगी तीर्थराज प्रयाग की झलक

राष्ट्रीय अधिवेशन में बोले पीएम मोदी - विपक्ष मजबूर जबकि देश मजबूत सरकार है चाहता 


GAURAV SHUKLA 12/01/2019 16:11 PM 65 Views


Lucknow. दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित बीजेपी राष्ट्रीय परिषद की बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि कभी दो कमरों से चलने वाली पार्टी आज इस विशाल स्वरूप में अपना राष्ट्रीय अधिवेशन कर रही है, यह अद्भुत और अविस्मरणीय है। पीएम ने कहा कि यह पहली राष्ट्रीय परिषद की बैठक है, जो अटल जी के बिना हो रही है। वह आज जहां भी होंगे, उन्हें बच्चों का राष्ट्र के प्रति समर्पण देख संतोष हो रहा होगा। अयोध्या मसले को लेकर पीएम ने कहा कि वह वकीलों के माध्यम से न्याय प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। कांग्रेस नहीं चाहती है कि अयोध्या मामले का हल निकले। पीएम ने कहा कि कांग्रेस का नामदार परिवार किस तरह नियमों को तोड़ता है, इसकी एक बानगी यह है कि नेशनल हेराल्ड केस में अध्यक्ष समेत अन्य नेता भी बाहर घूम रहे हैं।  

bjp rastriy adhivesan me bole pm modi vipaksh majbor jabki desh majboot sarkar chahta
पीएम मोदी के संबोधन की खास बातें- 

* देश के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है, जब सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा है। हम इस बात पर गर्व कर सकते हैं।
* हमसे पहले की सरकार का जो कार्यकाल था, उसने देश को बहुत अंधेरे में धकेल दिया था। अगर मैं कहूं कि भारत ने 2004 से 2014 के महत्वपूर्ण 10 साल, घोटालों और भ्रष्टाचार के आरोपों में गंवा दिए, तो गलत नहीं होगा। 21वीं सदी की शुरूआत में ये 10 वर्ष बहुत महत्वपूर्ण थे।
* पिछले साढ़े चार साल में भाजपा के नेतृत्व में जिस तरह हमारी सरकारें चली है, उससे जनमानस में यह भाव स्थापित हुआ है कि देश को ऊंचाई पर अगर कोई दल ले जा सकता है तो वह सिर्फ और सिर्फ भाजपा है।
* राष्ट्रीय परिषद में किसान, गरीब और वर्तमान राजनीति से जुड़े प्रस्ताव रखे गए हैं। हमारी कोशिश होनी चाहिए कि हमें इन प्रस्तावों में लिखी एक-एक बात याद हो। ये बातें घर-घर तक पहुंचनी चाहिए।
* स्वतंत्रता के बाद अगर सरदार बल्लभ भाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री बनते तो देश की तस्वीर कुछ और ही होती, वैसे ही 2000 के चुनाव के बाद अगर अटल जी प्रधानमंत्री बने रहते तो आज भारत कहीं और होता।
* इतने सारे लोगों का स्वेच्छा से रियायतें छोड़ देना, उद्यमियों का जीएसटी से जुड़ते जाना और आयकर भरने वालों की संख्या में जुड़ते जाना.. यह इसलिए हो रहा है कि देश के निर्माण में हर कोई आगे आ रहा है।
* भाजपा सरकार के कार्यकाल ने ये साबित किया है कि सरकार बिना भ्रष्टाचार के भी चलाई जा सकती है और सत्ता के गलियारों में टलहने वाले दलालों को भी बाहर किया जा सकता है।

bjp rastriy adhivesan me bole pm modi vipaksh majbor jabki desh majboot sarkar chahta
* भाजपा की सरकार का मूलमंत्र है सबका साथ-सबका विकास और एक भारत-श्रेष्ठ भारत। जब हम एक भारत-श्रेष्ठ भारत की बात करते हैं तो उनमें क्षेत्रीय अस्मिताओं और आकांक्षाओं के लिए पूरा स्थान है।
* सामान्य श्रेणी के गरीब युवाओं को शिक्षा और सरकारी सेवाओं में 10% आरक्षण नए भारत के आत्मविश्वास को आगे बढ़ाने वाला है । ये सिर्फ आरक्षण नहीं है बल्कि एक नया आयाम देने की कोशिश है।
* पहले से जिनको आरक्षण की सुविधा मिल रही थी उनके हक़ को छेड़े बिना, छीने बिना भाजपा सरकार द्वारा सामान्य वर्ग को 10% आरक्षण का प्रावधान किया गया है।
* आज के युवा को पता है कि उसकी आवाज सुनी जा रही है। वह जानता है कि उसके देश की शान मजबूत हो रही है। वह जानता है कि देश की आर्थिक और सामरिक हैसियत मजबूत हो रही है।
* भाजपा के हर कार्यकर्ता को इस व्यवस्था के पीछे के भाव और इसके लाभ को समाज के भीतर व्यापक चर्चा करनी चाहिए। कुछ लोग कोशिश कर रहे है कि इस बारे में भ्रम फैला कर असंतोष की आग लगाते रहे। हमें उनकी साजिशों को भी नाकाम करते चलना है।
* बेटियां सक्षम हैं और शक्ति का रूप भी हैं। यही कारण है कि भारत के इतिहास में पहली बार सशस्त्र बलों में बेटियों की भागीदारी सुनिश्चित हो रही है, बेटियां फाइटर प्लेन उड़ा रही हैं।
* यूपीए सरकार ने अपने आखिरी पांच साल में किसानों से 7 लाख मीट्रिक टन दलहन और तिलहन की खरीद की। हमने बीते साढ़े चार साल में 95 लाख मीट्रिक टन उपज किसान से खरीदी। अब भी हम किसानों के लिए बहुत कुछ करना चाहते हैं।
* हमने कोशिशों में कोई कमी नहीं छोड़ी है और ये आगे भी जारी रहेगी। साल 2022 तक किसान अपनी आय दोगुनी करने के साधन जुटा सके इसके लिए हम दिन रात जुटे हुए हैं।
* विरोधी दलों के लोग आरोप लगाते हैं हमने सिर्फ योजनाओं के नाम बदले हैं। ऐसे लोग ये बताएं कि कितनी योजनाएं नरेन्द्र मोदी के नाम से चल रही है? ये इसलिए है क्योंकि भाजपा में हमें यही सिखाया गया है कि स्वयं से बड़ा दल और दल से बड़ा देश होता है।
* 2014 से पहले देश उस स्थिति में था, जब बैंकों में अपना पैसे जमा करने वालों की कोई कद्र नहीं थी। जिनके पास जनता के पैसे की रक्षा की जिम्मेदारी थी, वो ही जनता का पैसा लुटा रहे थे, कांग्रेस की सरकार में जनता का पैसा घोटालेबाजों को लोन के रूप में दिया जा रहा था।
* कांग्रेस के समय लोन लेने के दो तरीके थे। एक था कॉमन प्रोसेस और दूसरा कांग्रेस प्रोसेस। कॉमन प्रोसेस में आप बैंक से लोन मांगते थे और कांग्रेस प्रोसेस में बैंकों को कांग्रेस के घोटालेबाज मित्रों को लोन देने के लिए मजबूर किया जाता था।
* आजादी से लेकर 2008 तक 60 सालों में बैंकों ने मात्र 18 लाख करोड़ रुपये का लोन दिया था, लेकिन 2008 से 2014 तक ये आंकड़ा बढ़कर 52 लाख करोड़ हो गया यानि कांग्रेस के आखरी 6 साल में 34 लाख करोड़ के लोन दिए गए।
* हमने कांग्रेस प्रोसेस वाली लोन व्यवस्था पर लगाम लगाई है। इसका परिणाम है कि जहां पहले बैंकों का पैसा जा रहा था, वहीं अब बैंकों का पैसा वापस आ रहा।
* जो राजनीतिक दल एक जमाने में कांग्रेस के तौर तरीकों को सही नहीं मानते थे वो आज एकजुट हो रहे हैं। जब कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता जमानत पे हैं, तब ये दल कांग्रेस के सामने सरेंडर कर रहे हैं। ये देश के मतदाताओं को धोखा देने का प्रयास है।
* राजनीति विचारों पर की जाती है। गठबंधन विजन पर बनते हैं। लेकिन ये पहला अवसर हैं जब ये सब राजनीति दल सिर्फ एक व्यक्ति को हराने के लिए एकजुट हो रहे हैं।
* हम मजबूत सरकार चाहते हैं ताकि किसानों को फसलों का उचित दाम मिलें, वो मजबूर सरकार चाहते हैं ताकि यूरिया घोटाला किया जा सके।
* वो मजबूर सरकार चाहते हैं ताकि स्वास्थ्य सेवाओं में घोटाला किया जा सके, एंबुलेंस घोटाला किया जा सके। लेकिन हम मजबूत सरकार चाहते हैं ताकि आयुष्मान भारत जैसी मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं देने वाली योजना चलाई जा सकें।
* अयोध्या विषय में कांग्रेस अपने वकीलों के माध्यम से न्याय प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने की कोशिश कर रही है। कांग्रेस नहीं चाहती की अयोध्या विषय का हल आए। कांग्रेस का ये रवैया किसी को भूलना नहीं चाहिए।

Web Title: bjp rastriy adhivesan me bole pm modi vipaksh majbor jabki desh majboot sarkar chahta ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया