भाजपा के पूर्व मंत्री पर लगा 20 करोड़ घूस लेने का आरोप, तलाश में जुटी क्राइम ब्रांच


ABHIMANYU VERMA 08/11/2018 11:38:20 66 Views

Bengaluru. भाजपा के पूर्व मंत्री और खनन कारोबारी जी जनार्दन रेड्डी धोखाधड़ी के आरोपों के बाद से ही लापता हैं। इस मामले में रेड्डी के खिलाफ बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच (सीसीबी) ने तलाशी अभियान छेड़ दिया है। आरोप है कि रेड्डी ने एक निजी कंपनी एमबियंट प्राइवेट लिमिटेड की मदद करने के लिए सोने के रूप में 20 करोड़ रुपये की रिश्वत ली। इस मामले में सीसीबी पुलिस ने रेड्डी से संबंधित बेंगलुरु की एक प्रॉपर्टी में तलाशी ली।

CCB started search operation against G Janardhana Reddy

बता दें कि रेड्डी पर कर्नाटक के बेल्लारी में अवैध तरीके से लोहे के अयस्क के खनन का कारोबार चलाने का भी आरोप लगा है। इस मामले में भी उन पर केस चल रहा है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का आरोप है कि पूर्व मंत्री गिरफ्तारी से बचने के लिए कहीं छिप गए हैं। वहीं, बेंगुरु पुलिस कमिश्नर टी सुनील कुमार ने कहना है कि सीसीबी पुलिस जब वित्तीय सेवाएं देने वाली कंपनी एमबिएंट के खिलाफ धोखाधड़ी के एक मामले की जांच कर रही थी। इस दौरान रेड्डी का नाम भी इसमें सामने आया। उन्होंने बताया कि एमबिएंट कंपनी पर 15 हजार लोगों को पॉन्जी स्कीम्स के जरिए 600 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप है। 

CCB started search operation against G Janardhana Reddy

सीसीबी ने जांच में पाया कि कंपनी के मालिक सैयद अहमद फरीद ने इस साल बेंगलुरु पुलिस की ओर से मामले दर्ज किए जाने के बाद ईडी की जांच से बचने के लिए पूर्व मंत्री रेड्डी से संपर्क किया था। पुलिस का आरोप है कि रेड्डी ने मदद के बदले सोने के रूप में 20 करोड़ रुपये की मांग की थी। 

इसके बाद 20 करोड़ रुपये कीमत का सोना कथित तौर पर फरीद ने बेल्लारी के राजमहल फैंसी जूलर्स को ट्रांसफर भेज दिया। यह दुकान रेड्डी और उनके समूह से संबंधित है। सोने को जूलर ने कथित तौर पर रेड्डी को सौंप दिया था। जिसको लेकर जूलर रमेश को गिरफ्तार करके पूछताछ की गयी। वहीं, पुलिस ने रेड्डी के अलावा उनके नजदीकी अली खान की भी तलाश में जुटी हुई है। आरोप है कि खान ने 20 करोड़ रुपये की डील के लिए बातचीत की।

Web Title: CCB started search operation against G Janardhana Reddy ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया